हैदराबाद. वोट के लिए नोट मामले में सामने आई ऑडियो टेप से आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की मुश्किलें बढ़ गई हैं. TDP के एक मनोनीत विधायक और चंद्रबाबू नायडू के बीच की कथित बातचीत में चंद्र बाबू नायडू मनोनीत विधायक से ये कहते हुए सुने जा सकते हैं कि… अगर वो तेलंगाना विधान परिषद के चुनाव में TDP उम्मीदवार के लिए वोट करते हैं तो उन्हें हर तरह की सुविधा दी जाएगी.

टेप से छेड़छाड़ हुई : नायडू
हालांकि चंद्रबाबू नायडू का कहना है कि ऑडियो टेप के साथ छेड़छाड़ हुई है. TDP ने आरोपों को सिरे से इनकार करते हुए मामले को कोर्ट में ले जाने की बात कही है. हाल ही में तेलंगाना के एक TDP विधायक रेवंत रेड्डी को एंटी करप्शन ब्यूरो ने एक दूसरे विधायक को रिश्वत की पेशकश करते हुए गिरफ़्तार किया था. विधान परिषद चुनाव में TDP उम्मीदवार को वोट देने के लिए रेवंत रेड्डी एक मनोनीत विधायक को रिश्वत की पेशकश कर रहे थे.

कांग्रेस ने मांगा इस्तीफ़ा
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने इस मुद्दे पर ट्वीट किया है कि अगर वोट के लिए नोट मामले में सामने आया ये टेप सही है तो चंद्रबाबू नायडू को इस्तीफ़ा दे देना चाहिए.

 

IANS से भी इनपुट