मुंबई. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण में देरी पर केंद्र और महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्ची (बीजेपी) के सहयोगी दल शिवसेना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा है. शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में मोदी सरकार से पूछा है कि पूर्ण बहुमत के बाद भी आखिर राम मंदिर का निर्माण क्यों नहीं हो रहा है. बीजेपी को अभ घोषणा कर देनी चाहिए कि वह अब राम मंदिर के मुद्दे पर कितना राजनीति करना चाहती है.
 
सामना में लिखा गया है कि बीजेपी के पास 280 का पूर्ण बहुमत है और साथ में शिवसेना सहित अन्य दल भी हैं. ऐसे में 300 सांसदों के बल पर राम मंदिर का निर्माण अब नहीं करोगे तो कब करोगे. सामना में आगे लिखा है कि 280 बीजेपी को मिला सर्वोच्च आंकड़ा है यह बहुमत का शिखर है, इसलिए राम मंदिर आज नहीं तो कभी नहीं. सिर्फ नारा मत लगाओ, ईंट लगाना शुरू करो.
 
सामना ने आगे लिखा है कि जनता ने बीजेपी को इसलिए वोट दिया था कि उनके राज में राम मंदिर का निर्माण हो जाएगा. पीएम मोदी ने लखनऊ में विजयादशमी के मौके पर नारा दिया जय श्रीराम. अब मंदिर बनाओ. शिवसेना ने कहा कि उसने मस्जिद गिराने में भूमिका निभाई और अब राम मंदिर बनाना चाहती है.