नई दिल्ली. पाकिस्तान एक बार फिर से भारत की पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक से मुकर गया है. पाकिस्तान उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने बुधवार को कहा कि ऐसी कोई स्ट्राइक नहीं हुई थी. अगर ऐसा होता तो पाकिस्तान उसका तुरंत जवाब देता. 
 
अब्दुल बासित ने ये बातें एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू के दौरान कहीं. उन्होंने कहा, ‘कहीं कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं हुई. 29 सितंबर को केवल सीमा पार फायरिंग हुई थी. अगर कोई सर्जिकल स्ट्राइक होती, तो पाकिस्तान उसका तुरंत जवाब देता.’
 
रक्षा विशेषज्ञ के आर्टिकल को नकारा
उन्होंने कहा कि भारत के पास सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो होने की बात भी गलत है. जब उनसे पूछा गया कि स्ट्राइक से पाकिस्तान को क्या सीख मिली तब उन्होंने स्ट्राइक होने से ही इनकार कर दिया. उन्होंने पाकिस्तान की नामी रक्षा विशेषज्ञ आयषा सिद्दकी के उस आर्टिकल को भी आधारहीन बता दिया, जिसमें उन्होंने 29 सितंबर को पीओके में स्ट्राइक होने और आतंकियों के मारे जाने के बारे में लिखा था. 
 
यहां तक कि उन्होंने एक भारतीय टेलीविजन चैनल से एक पाकिस्तानी पुलिस अधिकारी की बातचीत के सवाल को महत्वहीन बता दिया. जब पूछा गया कि क्या पाकिस्तान वैश्विक ​स्तर पर अलग-थलग पड़ गया, तो उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद से सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है.