लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लखनऊ के ऐशबाग मैदान में रामलीला कार्यक्रम में अपने भाषण की शुरुआत जय श्री राम के नारे के साथ करते हुए कहा कि विजयादशमी असत्य पर सत्य की विजय का त्यौहार है.
 
आतंकवाद रावण है
मोदी ने कहा, ‘आतंकवाद एक बुराई है. वह भी एक रावण है, जिससे पूरा विश्व तबाह हो रहा है. दो दिन से टीवी पर हम सीरिया की एक छोटी बालिका का चित्र देख रहे हैं. आंख में आंसू आ जाते हैं यह देख कर कि किस प्रकार निर्दोषों की जान दी जाती है. इसलिए आज जब हम रावण को जला रहे हैं तो हमें रावण के खिलाफ एक बनकर लड़ाई लड़नी ही पड़ेगी.’
 
मोदी ने कहा, ‘अगर सवा सौ करोड़ देशवासी आतंकवादियों पर नजर रखें एकजुट हो जाएं तो आतंकवाद का सफल होना मुश्किल है.’ उन्होंने कहा कि केवल भारत ही नहीं बल्कि पूरा विश्व आतंकवाद नाम के रावण से परेशान है, इसके खिलाफ लड़ाई में पूरे विश्व को एकजुट होना होगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मोदी ने कहा, ‘आतंकवाद एक बुराई है. प्रभु राम मानवता का प्रतिनिधित्व करते हैं, मानवता के आदर्शों का प्रतिनिधित्व करते हैं. राम जी ने त्याग, तपस्या की मिसाल हमारे बीच छोड़ कर गए हैं. रामायण गवाह है कि आतंकवाद के खिलाफ सबसे पहले लड़ाई जटायू ने लड़ी थी.’ 
 

अपने अंदर के रावण को खत्म करना जरूरी
उन्होंने कहा कि हमें रावण दहन से सबक लेना चाहिए और हमारे अंदर जो बुराईयां हैं उसे भी खत्म करना होगा. उन्होंने कहा, ‘मेरा सौभाग्य है कि अति प्राचीन रामलीला समोराह में सम्मिलित होने का अवसर मिला है.’ मोदी ने कहा, ‘हमारे भीतर बुरी सोच के रूप में जो रावण पल रहा है उसे खत्म करके इस राष्ट्र को आगे बढ़ाना है.’ उन्होंने कहा, ‘हमारी सांस्कृतिक विरासत को एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी को पहुंचाने के लिए कला सबसे महत्वपूर्ण रहा है.’
 
लड़कियों को आगे बढ़ाना जरूरी
प्रधानमंत्री ने कहा कि लड़कियों को आगे बढ़ाना जरूरी. लड़का-लड़की में भेदभाव करना भी रावण का ही एक रूप है. उन्होंने कहा, ‘हमें स्वभाव बनाना है कि घर में बेटी पैदा होने के समय भी उसी तरह से खुश होना चाहिए जैसे कि एक बेटे पैदा होने पर लोग होते हैं. आज के समय में लड़कियां नाम कमा रही हैं. ओलंपिक में भी लड़कियों ने ही नाम कमाया है. हर समाज के लोगों को महिलाओं का सम्मान करना चाहिए, उनको पुरुष के समान अधिकार देना चाहिए.’
 
युद्ध नहीं बुद्ध का मार्ग अपनाना है
पीएम मोदी ने कहा कि हमें युद्ध नहीं, बुद्ध का मार्ग अपनाना चाहिए. हमारे बीच जातिवाद, गंदगी, भ्रष्टाचार जैसे रावण हैं उसे खत्म करना होगा.
 
जातिवाद भी रावण है
उन्होंने कहा, ‘आज के इस पावन पर्व पर हमें संकल्प लेना चाहिए की हमें जातिवाद, सांप्रदायवाद, गंदगी, लड़का-लड़की में भेदभाव जैसे आतंकवाद को खत्म करना है. क्योंकि यह भी एक तरह से आतंकवाद का ही एक रूप हैं.’
 
ऐशबाग में दशहरा के इस कार्यक्रम को देखने के लिए भारी मात्रा में लोग इकट्ठा हुए थे. बहुत से लोग यहां रावण दहन देखने आए तो बहुत से लोग पीएम मोदी की स्पीच सुनने की इच्छा में आए छे
 
कहा जा रहा है कि बीजेपी इस रैली के साथ ही यूपी चुनाव के लिए रणनीति तय करने वाली है. ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि मोदी ने रविवार को कहा था कि इस बार की विजयादशमी देश के लिए बेहद खास है.
 
 
प्रधानमंत्री का स्वागत का यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखनऊ एयरपोर्ट पर औपचारिक स्वागत किया. राज्यपाल राम नाइक और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी  पीएम मोदी का स्वागत किया. बता दें कि राजनाथ सिंह पहले से ही लखनऊ में मौजूद थे.
 
उन्होंने मंगलवार को लखनऊ में एक कार्यक्रम के दौरान पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा था कि भारत किसी को छेड़ेगा नहीं, लेकिन अगर कोई छेड़ेगा तो हम फिर उसे छोड़ेंगे नहीं.