अहमदाबाद. गुजरात और राजस्थान हाई कोर्ट के पूर्व जज बीजे सेठना ने सुप्रीम कोर्ट पर तीखा हमला किया हैं. उन्होंने कहा आतंकवाद सिर्फ आतंकी नहीं फैलाते देश में ज्यूडिशियल टेरेरिज्म भी हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अहमदाबाद में एक कार्यक्रम के दौरान जस्टिस शेठना ने सुप्रीम कोर्ट पर ज्यूडिशियल टेरेरिज्म फ़ैलाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि याकूब मेनन की दया याचिका की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में रात 12 बजे भी हो जाती है पर क्या ये सहूलियत एक आदमी को मिलेंगी.
 
उन्होंने जजों की कमी के मुद्दे पर भी सुप्रीम कोर्ट को आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा की दो साल पहले तक जहां हाई कोर्ट में जजों के खाली पदों की संख्या 40 प्रतिशत थी वो अब बढ़कर 60 प्रतिशत हो गयी हैं.
 
उन्होंने आगे कहा कि इंटरनेशनल कोर्ट भी इशरत जहां को आतंकवादी घोषित कर चूका है पर हमारे देश के कुछ नेता उसे देश की बेटी बनाने में लगे हुए है. जिस समारोह में जस्टिस शेठना बोल रहे थे उसका आयोजन एक NGO ने किया था.  इस NGO के महामंत्री गुजरात के पूर्व पुलिस अफसर डीजी वंजारा हैं.