Hindi national Surgical Strike, tarek fatah, Islamic fascism, muslims, RSS, Indo-Pak relation, Jawahar Lal Nehru, gandhi ji, Congress http://www.inkhabar.com/sites/inkhabar.com/files/field/image/Surgical%20strike.jpg

'हजार सालों में पहली बार भारत बाबर के खिलाफ खड़ा हुआ है'

'हजार सालों में पहली बार भारत बाबर के खिलाफ खड़ा हुआ है'

| Updated: Sunday, October 9, 2016 - 12:07
tarek fateh says India First time stand against babar after surgical strike

pak journalist tarek fatah says India First time stand against babar after surgical strike

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
'हजार सालों में पहली बार भारत बाबर के खिलाफ खड़ा हुआ है'pak journalist tarek fatah says India First time stand against babar after surgical strike Sunday, October 9, 2016 - 12:07+05:30

नई दिल्ली. पाकिस्तान में घुसकर भारतीय सेना की ओर से की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर हर कोई अपनी तरीके से विश्लेषण कर रहा है. लेकिन पाकिस्तान में जन्मेे पत्रकार तारेक फतेह का कहना है कि वास्तव में भारत हजार सालों में पहली बार बाबर के खिलाफ खड़ा हुआ है.

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

एक निजी चैनल के कार्यक्रम में उन्होंने भारत-पाकिस्तान के संबंधों और धार्मिक कट्टरता पर अपनी बेबाकी से राय रखी है. उन्होंने कहा बलूचिस्तान के मुद्दे पर देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की भी आलोचना की. 



तारेक फतेह ने कहा कि आजादी की लड़ाई में बलूचों का भी योगदान था. बंटवारे के समय स्वतंत्रता संग्राम सेनानी अब्दुल गफ्फार खान उर्फ सीमांत गांधी या बाचा खान नाम खैबर पख्तुनवा को भारत में मिलाना चाहते थे. लेकिन उस समय गांधी जी, नेहरू जी और कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष मौलाना अबुल कलाम आजाद ने भौगोलिक स्थिति और भारत से दूरी की वजह से मना कर दिया.

उन्होंने कहा कि लेकिन अब  उरी हमले के बाद पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक और बलूचिस्तान सहित कई दूसरे मुद्दे उठा रहा है ऐसा लग रहा है कि हजार सालों में पहली बार बाबर के खिलाफ खड़ा हो गया है. 

फतेह ने कहा कि जब कराची से ढाका पर शासन किया जा सकता था तो जैसलमेर से मात्र 200 मील की दूर बलूचिस्तान पर भारत शासन क्यों नहीं कर सकता था.

पाकिस्तानी पत्रकार ने पाकिस्तान के अंदर चल रही उथल-पुथल और राजनीति का जिक्र करते हुआ कहा कि वहां के पंजाबी मुसलमानों ने हर जगह कब्जा कर रखा है. इसलिए पाकिस्तान में धीरे-धीरे अब अलगाववाद सुलग रहा है.

आपको बता दें कि तारेफ फतेह अब पाकिस्तान में नहीं रहते हैं वह अब कनाडा की नागरिकता ले चुके हैं. उन पर आरोप है कि वह भारत की नागरिकता लेने के चक्कर में हिंदू कट्टरपंथियों की भाषा बोलते हैं.  

First Published | Sunday, October 9, 2016 - 11:50
For Hindi News Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
Web Title: pak journalist tarek fatah says India First time stand against babar after surgical strike
(Latest News in Hindi from inKhabar)
Disclaimer: India News Channel Ka India Tv Se Koi Sambandh Nahi Hai

Add new comment

CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.

फोटो गैलरी

  • अभिनेत्री सोहा अली खान, दीपिका पादुकोण और नेहा धूपिया मुंबई में एक कार्यक्रम के दौरान
  • अभिनेता मुस्तफा बर्मावाला, मुंबई में फिल्म 'मशीन' के ट्रेलर लॉन्च के दौरान
  • मुंबई में लाइफ ओके के नए सिरियल "प्रेम या पहेली चंद्रकांता" के शुभारम्भ के दौरान टीवी एक्ट्रेस कृतिका कामरा
  • मुंबई में एक फोटो शूट के दौरान अभिनेता वरुण धवन और आलिया भट्ट
  • पटना की बिहार विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
  • कोलकाता में जादूगर पी.सी. सरकार को उनकी 104 वीं जयंती पर श्रंद्धांजलि देते परिवार के लोग
  • हरियाणा में सरकारी नौकरियों में आरक्षण की मांग को लेकर जाटों का प्रदर्शन
  • मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, नई दिल्ली में केन्द्रीय विद्यालय शाहदरा के शिलान्यास के अवसर पर संबोधित करते हुए
  • महाशिवरात्रि के अवसर पर हरिद्वार में भगवान शिव की पूजा करते भक्त
  • अमृतसर में महाशिवरात्रि पर भगवान शिव की पूजा करते भक्त
Shauryagatha