नई दिल्ली. दिल्ली में आयोजित पहले भारत इंटरनेशनल टूरिज्म बाजार के कार्यक्रम में मंगलवार को दिल्ली सरकार के मंत्री कपिल मिश्रा ने जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से पूछा कि आप हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को आतंकी मानती हैं या नहीं? साथ ही एक और सवाल पूछते उन्होंने कहा कि बुरहान वानी, अफजल गुरु और जेएनयू में नारेबाजी करने वाले लोगों को क्या मानती हैं? 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
कपिल मिश्रा ने महबूबा मुफ्ती से यह भी पूछा कि वह ‘भारत माता की जय’ पर क्या कहना चाहती हैं ? कपिल मिश्रा ने कहा कि हम पाकिस्तान से लड़ सकते हैं, लेकिन हम उन लोगों से कैसे लड़े जो आतंकियों को जम्मू-कश्मीर में पनाह देते हैं. 
 
कपिल मिश्रा के जब ये सवाल महबूबा मुफ्ती से पूछ रहे थे तो उसी दौरान मंच के नीचे एक व्यक्ति ने हंगामा शुरू कर दिया. इसी दौरान महबूबा मंच बैठी थीं और मुस्कुरा रहीं थीं. कपिल मिश्रा ने कहा मेरे इन सवालों पर सीएम को अपनी राय देनी होगी. इसके बाद भी कपिल मिश्रा शांत नहीं हुए. उन्होंने कहा कि महबूबा यहां आईं हैं तो इन सवालों के जवाब उन्हें तो देने ही पड़ेंगे. 
 
बता दें कि हिज्बुल मुजाहिदीन का कमांडर बुरहान वानी आठ जुलाई को एनकाउंटर में मारा गया था. इसके बाद कश्मीर में हिंसा शुरू हो गई. इस हिंसा में 88 लोगों की जान जा चुकी है. बुरहान वानी को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने शहीद तक बता दिया था. साथ ही संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरू को फांसी भी दी जा चुकी है.