बीकानेर. भारत की एलओसी के पार सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सरहद पर चौकसी बढ़ा दी गई है. इसी को देखते हुए नियंत्रण रेखा से सटे क्षेत्रों में धारा 144 लगा दी गई है. राजस्थान में अंतरराष्ट्रीय सीमा क्षेत्र के बीकानेर, श्रीगंगानगर, जैसलमेर और बाड़मेर जिलों में विशेष सतर्कता और निगरानी रखी जा रही है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इसके साथ ही हाई अलर्ट के बाद सीमावर्ती क्षेत्र के चारों जिलों में सेना के जवानों और पुलिस की छुट्टियां भी रद्द कर दी गई हैं. सैन्य सूत्रोंं के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बीएसएफ ने गश्त भी बढ़ा दी है. 
 
1037 किलोमीटर लंबी भारत-पाक सीमा पर 290 ये ज्यादा चौकियां और 290 से ज्यादा सीमा चौकियां (बीपीओ) हैं. एक चौकी से सीमा के 3 से 4 किमी. क्षेत्र पर नजर रखी जा रही है. जिला मजिस्ट्रेट वेदप्रकाश ने जिले में अलर्ट जारी किया है. इसके तहत खाजूवाला और श्रीकोलायत के विकास अधिकारी व पटवारियों को मुख्यालय पर रहने के निर्देश जारी किए गए हैं. 
 
सिम ​की बिक्री पर सख्ती 
धारा 144 के तहत राज्य शक्तियों का प्रयोग करते हुए सभी मोबाइल कंपनियों के कार्यालयों, अधिकृत दुकानों, काउन्टरों पर बिना ‘कस्टमर एक्वीजिशन फॉर्म’ की औपचारिकता पूरी किए और बिना आईडी के सिम बेचने पर एवं प्री एक्टीवेटेड सिम की बिक्री पर रोक के लिए निषेधाज्ञा लागू की गई है. यह आदेश आने वाले दो महीनों तक के लिए प्रभावी होंगे.
 
बीएसएफ, पुलिस और अन्य खूफिया एजेंसियां संभाग में अनजान लोगों पर नजर रख रही हैं. शहरी क्षेत्र में जवान सादे कपड़ों में मौजूद हैं और भीड़भाड़ वाले इलाकों से लेकर होटलों और धर्मशालाओं में आने वाले लोगों पर उनकी है.