नई दिल्ली. 2 अक्टूबर से सभी राष्ट्रीय स्मारकों और पर्यटक स्थलों में पॉलीथिन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लग जाएगा. इसको लेकर केंद्रीय पर्यटन मंत्री महेश शर्मा ने सभी अधिकारियों को रविवार के दिन इस प्रतिबंध को अमल में लाने के लिए काम पर लगा दिया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दरअसल 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी की जयंती और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जरिए लॉन्च किए गए स्वच्छ भारत अभियान के मद्देनजर इस प्रतिबंध को अस्तित्व में लाया गया है. इसे सफल बनाने के लिए सभी अधिकारियों को स्मारकों पर सफाई अभियान चलाने के लिए भी निर्देश दिए गए हैं.
 
महेश शर्मा के मुताबिक उन्होंने सभी अधिकारियों को साफ-सफाई को बढ़ावा देने के लिए रविवार के दिन भी काम पर लगाया है. लोगों से स्मारकों को पॉलीथिन मुक्त रखने की अपील की जाएगी. उन्होंने बताया कि इसका उद्देश्य सभी स्मारकों को पॉलीथिन मुक्त किया जाना है. इसको लेकर महेश शर्मा लाल किले का दौरा भी करेंगे.
 
बता दें कि पॉलीथिन को नष्ट करना काफी मुश्किल होता है और इससे पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंचता है. हालांकि पानी की प्लास्टिक की बोतलें इस प्रतिबंध में शामिल नहीं की गई है.