नई दिल्ली. भारत के सर्जिकल स्ट्राइक में आतंकियों को मारने के खुलासे के बाद अब पाकिस्तान इसके सबूत मिटाने में जुटा हुआ है. इसके लिए मरे हुए आतंकवादियों के शवों को दफनाया जा रहा है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
खुफिया एजेंसियों के हवाले से खबर है कि पाकिस्तान हमले को झूठ साबित करने की कोशिशों में लगा हुआ है. इसके तहत सर्जिकल स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों के शवों को दफनाया जा रहा है. यहां तक की आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद और जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर को चुप रहने के निर्देश दिए गए हैं. 
 
 
भारत ने बुधवार आधी रात को पीओएक में जाकर सर्जिकल स्ट्राइक में आतंकी कैंपों पर हमला बोल दिया था. सर्जिकल स्ट्राइक में 38 आतंकी मारे गए. डीजीएमओ रणबीर सिंह ने वीरवार को प्रेसे कांफ्रेस कर मीडिया को इसकी जानकारी दी थी.
 
लेकिन, इस जानकारी के बाद पाकिस्तान दुविधा में नजर आया था. पहले पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने हमले की निंदा करते हुए इसे स्वीकार किया था लेकिन बाद में पाकिस्तानी सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक होने से इनकार कर दिया था.