नई दिल्ली. पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने MNS के पाकिस्तानी कलाकारों के भारत छोड़ने के बयान का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी कलाकारों के भारत में काम करने पर बैन लगना चाहिए.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
उरी में सेना पर हुए आतंकी हमले के बाद दोनों तरफ से बयानों का दौर जारी है. सूत्रों के अनुसार पाकिस्तानी किकेटर ने कहा कि जब पाकिस्तानी क्रिकेटरों के आईपीएल खेलने पर बैन है तो पाकिस्तानी कलाकारों पर भी भारत में काम करने पर बैन लगना चाहिए. अफरीदी इससे पहले भी टी -20 विश्वकप के दौरान ये कह चुके है कि उन्हें पाकिस्तान से ज्यादा प्यार इंडिया में मिलता है.
 
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शाहिद ने ये बयान एक सोची समझी रणनीति के तहत दिया है. दरअसल वो जानते है कि ऐसे बयानों के बाद पाकिस्तान में उनके खिलाफ नफरत बढ़ेगी और वह ये कह सकेंगे कि पाकिस्तान में उनकी जान को खतरा है. जिसकी वजह से वह किसी अन्य देश में शरण के लिए आवेदन कर पाएंगे और पाकिस्तान की नागरिकता छोड़ कर दूसरे देश की नागरिकता ग्रहण कर लेंगे जिसके बाद आईपीएल में उनके खेलने का रास्ता साफ़ हो जायेगा.
 
कुछ ऐसा ही काम पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर अज़हर महमूद ने भी किया था, जो इस समय ब्रिटेन के नागरिक हैं और आईपीएल खेल रहे हैं. शाहिद अफरीदी के पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से रिश्ते इस समय अच्छे नहीं चल रहे हैं, उन्होंने अपने लिए एक रिटायरमेंट मैच की मांग की थी जिसे पीसीबी ने ठुकरा दिया था.