नई दिल्ली. संयुक्त राष्ट्र में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को आतंकवाद के मुद्दे पर करारा जवाब दिया है. सुषमा के भाषण के बाद केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्यमंत्री राज्यवर्धन राठौड़ ने भी साफ कर दिया है कि पाकिस्तान दिन में सपने देख रहा है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
राठौड़ ने कहा है कि पाकिस्तान को कश्मीर के सपने देखना बंद कर देना चाहिए और अपने क्षेत्र में हो रहे मानवाधिकार उल्लंघन पर ध्यान देना चाहिए. उन्होंने सुषमा के भाषण का जिक्र करते हुए कहा कि विदेश मंत्री ने अंतर्राष्ट्रीय मंच पर बहुत ही सही मुद्दे उठाए हैं. 
 
राज्यमंत्री राठौड़ ने कहा, ‘कश्मीर के सपने देखने के बजाए पाकिस्तान को अपने क्षेत्र में हो रहे मानवाधिकार उल्लंघन के मुद्दों पर ध्यान देना चाहिए. वहां के लोग खुद की स्वतंत्रता के बारे में सोच रहे हैं जो कि सही भी है. भारत हमेशा उन लोगों का समर्थन करेगा जो अपने अधिकारों के लिए आवाज उठाते हैं.’
 
 
बता दें कि सुषमा स्वराज ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में आतंकवाद पर पाकिस्तान को करारा जवाब दिया है. उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत क अभिन्न अंग है और रहेगा कोई सपना न देखे.
 
सुषमा ने कहा कि आतंकवाद मानवाधिकार का सबसे बड़ा दुश्मन है. आखिर आतंकवाद को कौन पनाह दे रहा है, कौन फंडिग कर रहा है. इन देशों को पहचानने की जरूरत है.