नई दिल्ली. उरी सेक्टर में हुए आतंकी हमले के बाद महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना की संपादकीय में केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि जिस तरह सोशल मीडिया पर ये प्रचार फैलाया जा रहा है कि PM मोदी जी ने पाकिस्तान को अलग-थलग कर दिया है लेकिन सच्चाई इससे उलट है. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी कोई भी देश पाकिस्तान के खिलाफ नहीं बल्कि उसके साथ खड़ा है.
 
 
सामना में लिखा कि पिछले दो साल से हिंदुस्तान की जो दुनियादारी जारी थी वो किसी काम नहीं आई. उरी हमले के बाद आखिर कोई देश हिंदुस्तान के साथ खड़ा है एक भी ऐसा देश नहीं दिख रहा है.
 
 
BJP के लोग सोशल मीडिया इसका प्रचार करने लग गए हैं कि कैसे मोदी जी ने पाकिस्तान को अलग थलग कर दिया लेकिन सच ये है कि रूस ने पाकिस्तान के साथ अपना सैन्य अभ्यास रद्द नहीं किया, चीन ने भी पाकिस्तान को समर्थन दे दिया साथ ही इंडोनेशिया ने भी यही किया. फिर मोदी जी का अरब देशों में जाने का फायदा क्या हुआ ?
 
 
शिवसेना ने 1971 के युद्ध में रूस का भारत के साथ देने पर लिखा है कि उस वक्त रूस ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के कहने पर अपने जंगी जहाज भेजे था लेकिन आज ऐसी कोई दोस्ती नहीं दिखाती. शिवसेना ने लिखा कि कहीं पाकिस्तान को दूनिया से अलग करने की कोशिश में कहीं भारत ही तो अकेला नहीं हो गया.
 
 
शिवसेना ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोलते हुए पूछा कि क्या UN में नवाज शरीफ के भाषण के बाद  उसका सीना 56 इंच फुल गया है? अगर ऐसा हुआ तो उसके लिए नवाज की मर्दानगी जिम्मेदार नहीं बल्की हमारी दुम दिखाने की आदत जिम्मेदार है.