नई दिल्ली. संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून और अमेरिका ने रविवार को उरी में सेना के कैंप पर हुए हमले की कड़ी निंदा की है. भारत में अमेरिकी राजदूत रिचर्ड वर्मा ने ट्वीट करके कहा कि हम जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना के कैंप पर हुए हमले की कड़ी निंदा करते हैं. हमारी संवेदनाएं उरी हमले में शहीद सैनिकों के परिजनों के साथ हैं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बता दें कि आतंकवादियों ने रविवार को जम्मू कश्मीर के उरी सेक्टर में मौजूद सेना के कैंप पर हमला कर दिया था. इस आतंकी हमले में अबतक 20 सैनिक शहीद हो चुके हैं. वहीं दर्जनों अन्य घायल हैं. यह 26 वर्षों में सेना पर होने वाला सबसे बड़ा हमला था. आतंकियों ने कैंप पर 3 मिनट में 17 ग्रेनेड दागे थे. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार ये काम सलामाबाद नाला से लगे क्षेत्र से घुसपैठ करने वाले आतंकवादियों का है. 
 
आधिकारिक सूत्रों के अनुसार शिविर पर हमला तड़के चार बजे शुरू हुआ था. शिविर श्रीनगर से 102 किलोमीटर दूर उरी नगर स्थित सेना के ब्रिगेड मुख्यालय से कुछ मीटर दूर स्थित है. सूत्रों ने बताया कि डोगरा रेजीमेंट के जवान एक टेंट में सो रहे थे जिसमें विस्फोट के चलते आग लग गई. बता दें कि इस हमले से दो साल पहले इसी क्षेत्र में पांच दिसम्बर 2014 को आतंकियों ने हमला किया था. जिसमें 10 सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे.