Hindi national Bihar, Shahabuddin, shooter Mohammad Kaif, siwan, journalist, Rajdev Ranjan, bhagalpur, jail http://www.inkhabar.com/sites/inkhabar.com/files/field/image/Bihar%2C%20Shahabuddin%2C%20shooter%20Mohammad%20Kaif%2C%20Siwan%2C%20Journalist%2C%20Rajdev%20Ranjan%2C%20Bhagalpur%2C%20Jail.jpg

जेल के बाहर शहाबुद्दीन के स्वागत में खड़ा था पत्रकार राजदेव की हत्या का आरोपी

जेल के बाहर शहाबुद्दीन के स्वागत में खड़ा था पत्रकार राजदेव की हत्या का आरोपी

    |
  • Updated
  • :
  • Tuesday, September 13, 2016 - 19:47
Bihar, Shahabuddin, shooter Mohammad Kaif, Siwan, Journalist, Rajdev Ranjan, Bhagalpur, Jail

Wanted shooter spotted with Shahabuddin in front of jail

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
जेल के बाहर शहाबुद्दीन के स्वागत में खड़ा था पत्रकार राजदेव की हत्या का आरोपीWanted shooter spotted with Shahabuddin in front of jailTuesday, September 13, 2016 - 19:47+05:30
भागलपुर. सीवान के पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या का आरोपी मोहम्मद कैफ बिहार के बाहुबली नेता और सीवान के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन की रिहाई के वक्त उसके काफिले में दिखाई दिया. इस फोटो के सामने आने के बाद से ही यह राजदेव की हत्या के पीछे शहाबुद्दीन का हाथ हो सकता है. बता दें कि पत्रकार की हत्या का आरोपी अभी फरार है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
जो फोटो सामने आई है उसमें मोहम्मद कैफ शहाबुद्दीन के बगल में खड़ा है और शहाबुद्दीन को देखकर मुस्कुरा रहा है. जिससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि हत्या का आरोपी बिहार के इस बाहुबली का करीबी है.
 
भागलपुर जेल से रिहाई के वक्त शहाबुद्दीन के काफीले में राजदेव की हत्या का आरोपी बेखौफ घूमता दिखाई दिया. बता दें कि पुलिस रिकॉर्ड में यह शख्स फरार चल रहा है, लेकिन रिहाई के वक्त भी किसी पुलिस अधिकारी की नजर इस पर नहीं पड़ी.
 
क्या है मामला ?
 
बता दें कि शनिवार को पूर्व सांसद शहाबुद्दीन को पटना हाईकोर्ट ने राजीव रोशन हत्या मामले में जमानत दे दी. शहाबुद्दीन 11 साल बाद जेल से रिहा हो गया है. तेजाब कांड के आरोपी के रूप में शहाबुद्दीन ने 11 साल जेल में काटे हैं. 
 
तेजाब कांड 11 साल पुराना मामला है. जिसमें शहर के प्रमुख व्यावसायी चंद्रकेश्वर प्रसाद उर्फ चंदा बाबू के दो बेटों गिरीश और सतीश का अपहरण कर शरीर पर तेजाब डाल कर उनकी हत्या कर दी गयी थी. इन दोनों का शव बरामद नहीं हो सका था. वहीं चंदा बाबू का तीसरा बेटा राजीव रोशन भागने में सफल हो गया था. इस मामले में राजीव रौशन गवाह थे, लेकिन गवाही के पहले उनकी भी हत्या कर दी गई थी. 
First Published | Tuesday, September 13, 2016 - 19:47
For Hindi News Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
(Latest News in Hindi from inKhabar)
Disclaimer: India News Channel Ka India Tv Se Koi Sambandh Nahi Hai

Add new comment

CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.