Hindi national malaria, Dengue, Chickengunya symptoms of dengu, symptoms of maleria, symptoms of chikangunia http://www.inkhabar.com/sites/inkhabar.com/files/field/image/dengue_2.jpg

डेंगू, चिकनगुनिया में लापरवाही बन सकती है जानलेवा, बुखार हो तो तुरंत करें ये उपाय

डेंगू, चिकनगुनिया में लापरवाही बन सकती है जानलेवा, बुखार हो तो तुरंत करें ये उपाय

    |
  • Updated
  • :
  • Tuesday, September 13, 2016 - 13:14
malaria, Dengue, Chickengunya symptoms of dengu, symptoms of maleria, symptoms of chikangunia

symptoms of dengue chikangunia and how to cure from these diseases

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
डेंगू, चिकनगुनिया में लापरवाही बन सकती है जानलेवा, बुखार हो तो तुरंत करें ये उपायsymptoms of dengue chikangunia and how to cure from these diseasesTuesday, September 13, 2016 - 13:14+05:30
नई दिल्ली.  दिल्ली सहित पूरे एनसीआर में इस बार चिकनगुनिया का प्रकोप है. मच्छरों की वजह से होनी वाली इस बीमारी से 3 लोगों की मौत हो चुकी है. जिसकी वजह से लोगों में काफी डर फैल गया है. लेकिन अगर थोड़ी सी भी सावधानी बरती जाए तो इस रोग को छू-मंतर किया जा सकता है. 

 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

 
दरअसल, डेंगू और चिकनगुनिया के मामले में अक्सर लोग लापरवाही बरतते हैं जिसकी वजह से केस बिगड़ जाता है. इसलिए जुलाई से लेकर दिसंबर तक भी जब भी बुखार हो तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए. 

 
क्या हैं चिकनगुनिया के  लक्षण
1- मच्छर काटने के बाद चिकनगुनिया के लक्षण मरीज को एक हफ्ते में नजर आने लगते हैं. जिसमें सबसे पहले बुखार आता है. जोड़ो में दर्द शुरू हो जाता है. 
2- कभी-कभी बुखार 104 डिग्री तक पहुंत जाता है. ऐसी स्थिति में ठंडे पानी की पट्टी मरीज के माथे पर रखनी चाहिए.
3- जोड़ो में सूजन आ जाती है. 
4- शरीर पर लाल रंग के चकत्ते, आंखें लाल और उससे पानी आता है. 
 
बचाव 
1- मच्छर से बचकर रहें. आस-पास पानी न जमा होने दें.
2- रात में मच्छरदानी लगाकर सोएं और पूरी बाहों के कपड़ें पहनें.
3-   बिना डॉक्टर की सलाह के दवा न लें. 
4- बीमार होने पर पानी खूब पिएं.
 
डेंगू के लक्षण
1- ये बीमारी भी मच्छर के काटने से होती है. इसमें तेज बुखार आता है. शरीर पर रैशेज पड़ जाते हैं. 
2- चक्कर आता, स्वाद बदल  जाता है. 
3- सर और पूरे शरीर में तेज दर्द होता है.
4- खून में प्लेटलेट्स तेजी से घट जाते हैं. जिसकी वजह से कई बार खून भी चढ़ाना पड़ता है.
 
बचाव
1- तुरंत डॉक्टर से मिले. बिना सलाह के कोई दवा न खाएं.
2- खूब पानी पिएं. नारियल, पानी, ग्लूकोज, फलों का रस, पी सकते हैं.
3- पपीता और उसके पत्ते का जूस काफी फायदेमंद होता है.
 
First Published | Tuesday, September 13, 2016 - 13:09
For Hindi News Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
(Latest News in Hindi from inKhabar)
Disclaimer: India News Channel Ka India Tv Se Koi Sambandh Nahi Hai

Add new comment

CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.