चेन्नई. कावेरी जल विवाद को लेकर हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है. बेंगलुरु में कल हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद कई जगह पर कर्फ्यू लगा दिया गया है. बेंगलुरु शहर के 16 पुलिस थानों में कर्फ्यू लगा दिया गया है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इससे पहले सोमवार को बेंगलूरु में प्रदर्शनकारियों ने जमकर तोड़फोड़ की और बसों में आग लगा दी. इस हिंसा में एक शख्स को जान से हाथ धोना पड़ा था. इसके अलावा इन प्रदर्शनकारियों ने 40 बसों को आग के हवाले कर दिया था. इन सब हालातों के बीच बेंगुलुरु में मेट्रो को रोक दिया गया है और बड़ी संख्या में पैरा मिलिट्री फोर्स तैनात की गई है. 
 
CM जयललिता ने पत्र लिखकर जताई चिंता
वहीं दूसरी ओर कर्नाटक में हिंसा को चिंताजनक बताते हुए तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता ने मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को पत्र लिखा है. उन्होंने पत्र लिखकर तमिल भाषी लोगों और उनकी संपत्तियों की सुरक्षा के लिए कहा है. 
 
बता दे कि पहले कोर्ट ने कर्नाटक सरकार को कावेरी नदी का 15 हज़ार क्यूसेक पानी रोजाना तमिलनाडु को देने का आदेश सुनाया था. कोर्ट के इस फैसले के विरोध में कर्नाटक के कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन देखने को मिला था.