मुंबई. बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने कॉमेडियन कपिल शर्मा के रिश्वत लिए जाने के आरोप पर पलटवार किया है. BMC का कहना है कि जिस ऑफिस को लेकर उन्होंने रिश्वत लिए जाने की बात कही थी वो अवैध रुप से निर्माण किया जा रहा था. इस बात को लेकर उन्हें नोटिस भी दिया गया था लेकिन कंस्ट्रक्शन नहीं रुका तो BMC ने अवैध निर्माण गिरा दिया. इसी से नाराज कपिल ने रिश्वत का आरोप लगाया है.
 
क्या कहा BMC ने ?
BMC ने कहा है कि अंधेरी के जिस हाउस को लेकर रिश्वत देने की बात कपिल शर्मा ने कही है वहां उनका अवैध निर्माण हो रहा है. BMC ने आगे कहा है कि कपिल ने 15-16 फुट तक बंगले के पीछे की जगह पर कब्ज़ा किया और वहां मैंग्रोव को काटा. इसके अलावा ग्राउंड प्लस वन का स्ट्रक्चर होने के बावजूद एक फ्लोर गैरकानूनी तरीके से बढ़ाया. विभाग ने उन्हें स्टॉप वर्क का नोटिस भी दिया था.
 
BMC ने कहा है कि कपिल ने नोटिस न तो कोई जवाब दिया और न ही अवैध निर्माण बंद करवाया. जिसके बाद अगस्त महीने में विभाग ने हॉरिजॉन्टल और वर्टीकल एनक्रोचमेंट को डेमोलिश कर दिया. इसी से नाराज होकर कपिल ने घूस के आरोप लगाए गए हैं.
 
कपिल पर मनोज तिवारी का हमला
वहीं कपिल शर्मा के ट्वीट पर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने कहा है कि कपिल के अच्छे दिन तो आ ही गए लेकिन उनकी मंशा ठीक नहीं है.
 
दरअसल कपिल शर्मा ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करके कहा, ‘ये हैं आपके अच्छे दिन ? मैं पिछले 5 सालों से 15 करोड़ रुपये टैक्स दे रहा हूं. फिर भी BMC वाले मेरे से 5 लाख की घूस मांग रहे हैं.’ कपिल शर्मा के मुताबिक उन्हें मुंबई में एक ऑफिस बनवाना है जिसके लिए BMC वाले 5 लाख की घूस मांग रहे हैं.