श्रीनगर. कट्टरपंथी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस ने कहा कि लोग कश्मीर में उसकी रैलियों में पाकिस्तानी झंडे फहराते रहेंगे. इसके साथ ही इसने पड़ोसी देश को ‘शुभचिंतक’ करार दिया. कट्टरपंथी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी ने यहां अपने आवास पर एक समारोह में कहा, ‘पाकिस्तानी झंडे फहराए गए हैं (कश्मीर में) और इंशाअल्लाह भविष्य में भी फहराए जाएंगे, क्योंकि पाकिस्तान हमारा पड़ोसी और शुभचिंतक है.’
 
इस साल 15 अप्रैल से कश्मीर में कई अलगाववादी रैलियों में पाकिस्तानी झंडे फहराए गए जिस पर विपक्षी दलों ने राज्य सरकार की कड़ी आलोचना की. पहली घटना 15 अप्रैल को हुई, जब दिल्ली से लौटने पर गिलानी के स्वागत में हुर्रियत की तरफ से आयोजित रैली में पाकिस्तानी झंडे फहराए गए. राज्य सरकार ने इसके जवाब में मसर्रत आलम को गिरफ्तार कर लिया और उस पर लोक सुरक्षा कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया. गिलानी ने कहा कि कश्मीर के लोगों ने भारत का बुरा नहीं चाहा, बल्कि ‘देश को अपना ईश्वर बना लिया.’

IANS