नागपुर. महाराष्ट्र के नागपुर में कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने एक शोभा यात्रा निकाली. इस शोभा यात्रा में कार्यकर्ताओं ने कानून कि खिल्ली उड़ाते हुए पूरे नागपुर में घूमते रहे. दरअसल बुधवार को बजरंग दल के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने कृष्ण जन्माष्टमी और विश्व हिंदू परिषद (VHP) के स्थापना दिवस के मौके पर बजरंग दल हर साल ये शोभायात्रा निकालता है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस शोभा यात्रा के दौरान बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने खुली तलवारों और नारेबाजी करते हुए दुसरे शस्त्रों का खुलेआम प्रदर्शन किया. शोभायात्रा की शुरुआत नागपुर के धंतोली के गोरक्षण मंदिर से हुई. कुछ अखाड़ों ने शोभायात्रा में हिस्सा लिया. लेकिन बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के हाथ में खुली तलवारें और परशु जैसे दूसरे शस्त्र दिखे.
 
पुलिसबल भी मौके पर मौजूद था. लेकिन बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को इसकी कोई परवाह नहीं थी. काफी देरी बाद जब पुलिसवालों ने कार्यकर्ताओं को हिदायत दी तब उन्होंने अपने शस्त्र वापस रख लिए.
 
कृष्ण जन्माष्टमी और विश्व हिंदू परिषद (VHP) के स्थापना दिवस को मिलाकर बजरंग दल हर साल ये शोभायात्रा निकालता है. पिछली बार भी शोभायात्रा के दौरान इसी तरह खुलेआम तलवारें लहराइ गईं थी. जिसको लेकर काफी विवाद भी हुआ था. लेकिन बजरंग दल ने इस विवाद से कोई सबक नहीं लिया और इस बार भी उसके कार्यकर्ताओं ने शोभायात्रा के दौरान कानून को ताक पर रखकर खुलेआम तलवारे लहराईं.