नई दिल्ली. करोड़ों के शारदा चिटफंड घोटाले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की पत्नी नलिनी चिदंबरम को प्रवर्तन निदेशालय ने पूछताछ के लिए बुलाया है. ​नलिनी चेन्नई की वरिष्ठ वकील हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
निदेशालय ने घोटाले में नलिनी की भूमिका की जांच करने के लिए उन्हें तलब किया है. इससे पहले साल 2014 में सीबीआई ने शारदा घोटाले में दायर छठी सप्लीमेंट्री चार्जशीट में नलिनी का जिक्र किया था. 
 
नलिनी चिदंबरम का नाम इस मामले में पहली बार तब आया था जब साल 2013 में शारदा कंपनी के बॉस सुदिप्त सेन ने सीबीआई को एक पत्र लिखकर कहा था कि शारदा समूह ने वकील को फीस के तौर पर एक करोड़ रुपये का भुगतान किया था. सेन खुद इस वक्त जेल में हैं.
 
इस मामले में नलिनी एक गवाह या आरोपी नहीं थी बल्कि उनका नाम विवादित चैनल सौद से जुड़ी कुछ सूचनाओं की गुप्त जानकारियां रखने वाले के तौर पर आया था. फिलहाल नलिनी की टीम ने सीबीआई की पूछताछ से इंकार किया है.