नई दिल्ली. देश मे काले धन पर लगाम कसने के लिए सरकार अहम कदम उठाने की तैयारी में है. सरकार अब तीन लाख से ज्यादा की नगद लेन-देन पर बैन करने जा रही है. इससे पहले काले धन पर रोक के लिए बनी सुप्रीम कोर्ट की स्पेशल टीम ने इस कानून की सिफारिश की थी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
काले धन पर नकेल
रिपोर्ट्स के अनुसार कोर्ट तीन लाख से ज्यादा की नगदी पर रोक इसलिए लगाना चाहती है ताकि लोग क्रेडिट या डेबिट कार्ड्स और चेक या ड्राफ्ट्स के जरिए ट्रांजेक्शन करें. क्रेडिट या डेबिट कार्ड्स के जरिए किए गए ट्रांजेक्शन का आसानी से पता लगाया जा सकता है. सरकार का मानना है कि जो लोग नगदी खरीदारी करके कालेधन को इन्वेस्ट करते हैं इससे उन लोगों पर काफी हद तक नकेल कसी जा सकती है.
 
SIT की सिफारिश 
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट की स्पेशल टीम ने सरकार के सामने एक और सिफारिश की है. इसमें 15 लाख से ज्यादा की नकदी रखने पर बैन लगाने की बात कही गई है. हालांकि इस पर अभी फैसला आना बाकी है.