नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने अंडमान निकोबार के सेल्यूलर जेल में कैद किए स्वंतत्रता सेनानियों की पेंशन में 5000 रुपए का इजाफा किया है. इस वृद्धि के बाद अब 30 हजार रुपए पेंशन दिया जाएगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रिपोर्ट के मुताबिक अंडमान निकोबार के पूर्व राजनीतिक कैदियों, उनकी पत्नी या पति की पेशन 24 हजार 775 से 30000 रुपए कर दी गई है, वहीं ब्रिटिश शासन में भारत से बाहर कैद में रहे सेनानियों की पेंशन 23 हजार 85 रुपए से बढ़ाकर 28000 रुपए और आजाद हिन्द फौज के सदस्यों की पेंशन 21395 से बढ़ाकर 26000 हजार रुपए की गई है.
 
बता दें कि 15 अगस्त 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किल के प्राचीर से स्वतंत्रता सेनानियों की पेंशन में 20 फीसदी की वृद्धि की बात कही थी.