इस्लामाबाद. बुरहान वानी की मौत के बाद से पाकिस्‍तान और वहां के आतंकी संगठन कश्मीर के मुद्दे पर बयानबाजी कर रहे हैं. इसमें ताजा कड़ी जमात-उद-दावा के प्रमुख आतंकी हाफिज सईद है जिसने एक बार फिर से कश्‍मीर को लेकर जहर उगला है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
हाफिज सईद ने पाकिस्‍तानी सेना को अपने सैनिकों को कश्‍मीर भेजने को कहा है. वो चाहता है कि पाकिस्तान सेना भारत को सबक सिखाए. बुरहान वानी की मौत के बाद से ही वादी में उपद्रव का सिलसिला जारी है जिसमें अबतक 60 से ज्‍यादा मौते हो चुकी हैं. पाकिस्‍तानी मीडिया की मानें तो मुंबई हमलों के मास्‍टरमाइंड सईद ने आर्मी चीफ जनरल रशीद से सैनिकों को भारत भेजने के लिए कहा है.
 
पिछले महीने भी आतंकी सईद ने धमकी दी थी कि कश्‍मीर में चल रहे प्रदर्शन और ज्‍यादा तेज होंगे और वहां मरने वालों की कुर्बानी खाली नहीं जाएगी. इसी तरह गुरुवार को लाहौर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सईद ने कहा, ‘इस बार कश्‍मीर के लोग सड़कों पर हैं. यह प्रदर्शन एक जन आंदोलन बन चुका है. कश्‍मीर के सभी ग्रुप साथ आ गए हैं और हुर्रियत के सभी अंग मिल गए हैं. मुत्‍ताहिदा जिहाद काउंसिल के साथ दूसरे ग्रुप भी हाथ मिला चुके हैं. जो लोग कश्‍मीर में मारे गए हैं उनकी कुर्बानी जाया नहीं होगी।’ 
 
बुरहान वानी की मौत के बाद हाफिज ने एक श्रद्धांजलि सभा भी रखी थी जिसमें उसने दावा किया था कि बुरहान उससे बात करने के बाद मरने के लिए तैयार था. हाफिज ने यह भी कहा था कि उसे आसिया अंद्राबी ने फोन कर रोते हुए पूछा था कि वो कहां हैं.