इस्लामाबाद. स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बलूचिस्तान का जिक्र किए जाने पर पाकिस्तान बौखला गया है. पाकिस्तान ने कहा है कि पीएम मोदी अपने भाषण में बलूचिस्तान का नाम लेकर कश्मीर मुद्दे से दुनिया का ध्यान भटकाना चाहते हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पाकिस्तान ने दावा किया कि भारत ने बलूचिस्तान और PoK में कथित तौर पर आतंकवाद को उकसाता आ रहा है. बता दें कि पीएम मोदी के बयान के बाद पाकिस्तान ने बलूचिस्तान के नेताओं को बात करने के लिए बुलाया है.
 
प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने कहा है कि पीएम मोदी के भाषण में बलूचिस्तान का जिक्र करना साफ बताता है कि भारत अपनी खूफिया एजेंसी रॉ के जरिए पाकिस्तान में आतंक फैलाता है. अजीज ने मार्च में मीडिया के सामने लाए गए तथाकथित भारतीय जासूस कुलभूषण यादव का भी उदाहरण दिया. अजीज ने आरोप लगाया कि कश्मीर की स्वतंत्रता के लिए हजारों युवा प्रदर्शन कर रहे हैं. 70 मारे गए हैं और छह हजार घायल हैं. इसका आतंकवाद से कोई लेना-देना नहीं है. 
 
बता दें कि पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के अपने भाषण में बलूचिस्तान और PoK के मुद्दे पर पाकिस्तान को जमकर सुनाया. पीएम ने कहा था कि पिछले कुछ दिनों में गिलगित, बलूचिस्तान और PoK वाले कश्मीर के लोगों ने मेरे प्रति डो सद्भावना जताई है उसके लिए मैं विशेष रूप से उनका अभिनंदन करना चाहता हूं. उन्होंने आगे कहा कि उस जमीन को मैंने कभी देखा नहीं है, लेकिन वहां के लोग मेरा जो आदर करते हैं तो यह मेरे देश का सम्मान है.