बेंगलुरू. बेंगलुरू पुलिस ने एमनेस्टी इंडिया के खिलाफ आजाद समर्थक कश्मीरियों द्वारा कथित तौर पर देशविरोधी नारे लगाए जाने के सिलसिले में मंगलवार को एफआईआर दर्ज की. पुलिस ने आईपीसी की धारा 142, 143, 147, 124A, 153A और 149 के तहत मामले दर्ज किये गए हैं. हालांकि ये सभी मामले एमनेस्टी इंडिया संस्था के खिलाफ दर्ज हुए हैं, किसी व्यक्ति के नहीं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इसके बाद एबीवीपी ने कार्यक्रम को राष्ट्र विरोधी बताते हुए इसके खिलाफ सोमवार को विरोध प्रदर्शन किया. एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई और कार्यक्रम के वीडियो की एक सीडी भी पुलिस को सौंपी. पुलिस ने बताया कि एफआईआर दर्ज कर ली है और मामले में आगे की जांच की जाएगी.
 
बता दें कि बेंगलुरू के यूनाइटेड थियोलॉजिकल कॉलेज में स्वतंत्रता दिवस से पहले कॉलेज में कश्मीर मुद्दे पर डिबेट का आयोजन किया गया था. जिसमें कुछ कश्मीरी छात्रों को बुलाया गया था, जो ये बता रहे थे कि कश्मीर में किस तरह से उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है. छात्रों ने कश्‍मीर की आजादी और भारतीय सेना के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
उन्‍होंने सेना द्वारा मुठभेड़ में मार गिराए गए आतंकी बुरहान वानी को अपना हीरो भी बताया. इसी बीच कश्मीरी पंडितों का एक दल वहां आया और फिर दोनों गुटों में तीखी झड़प हुई. इस झड़प के बाद का एक तथाकथित वीडियो सामने आया जिसमें कुछ युवा चिल्लाते हुए सुने जा सकते हैं, “हमको चाहिए आजादी.”