नई दिल्ली. आज स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने छत्रसाल स्टेडियम से दिल्ली वालों को संबोधित करते हुए दिल्ली में काम करने वाले वर्कर्स के नाम एक तोहफे की घोषणा की. दरअसल दिल्ली सरकार दिल्ली में काम करने वाली सभी वर्किंग क्लास के लिए न्यूनतम मजदूरी को 50% तक बढ़ाने वाली है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
स्वतंत्रता दिवस को मनाने के लिए छत्रसाल स्टेडियम में आयतोजित कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली कैबिनेट न्यूनतम मजदूरी के संशोधित बिल को अगले हफ्ते तक  मंजूरी दे देगी. केजरीवाल ने यहां आगे कहा कि मेरी सरकार अमीरो, माध्यम वर्ग और गरीबों सभी के लिए काम करने वाली सरकार है. 
 
दिल्ली सरकार के संशोधित बिल के अनुसार अब अकुशल कारीगरों की न्यूनतम मजदूरी 9,568 से बढ़ कर 14,052 रुपये हो जाएगी. वहीं कुशल कारीगरों की न्यूनतम मजदूरी 11,622 से बढ़ कर 17,033 रुपये होगी. इन दो वर्गों के बीच आने मजदूरों को अब 10,582 की जगह 15,471 रुपये मजदूरी मिलेगी. 
 
यहां केजरीवाल ने आगे कहा कि जब देश में दालों के दाम भी 200 रुपये से ज्यादा हो रहे हैं, ऐसे में मैं प्रधानमंत्री और अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों से दरख्वास्त करता हूँ कि वह भी न्यूनतम मजदूरी की दरों में वृद्धि करें.