नई दिल्ली. लोकसभा और राज्यसभा से पास होने के बाद GST बिल पास करने वाला असम पहला राज्य बन गया है. संविधान संशोधन बिल होने के कारण GST बिल का कम से 50 प्रतिशत राज्यों की विधानसभा में पास होना जरुरी है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
असम के मु्ख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने ट्विट करके ये जानकारी दी है. 
 
सोनोवाल ने आगे लिखा है कि ‘मुझे यकीन है कि असम को जीएसटी से ज्यादा इकॉनोमिक ग्रोथ और बेहतर रिवेन्यू कलेक्शन मिलेगा और राज्य को लाभ होगा.’
 
GST बिल संविधान का 122वां संशोधन बिल है.