पटना. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने बिहार में शराबबंदी कानून का खुलकर विरोध किया है और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि ये कहां का इंसाफ है कि एक घर में शराब मिलने पर पूरे गांव पर जुर्माना ठोक दिया. शराबबंदी कानून में सामूहिक जुर्माना लगाना गलत है. इसको वापस लेना चाहिए. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि उनकी ही पार्टी के विधायक इस शराबबंदी कानून के पक्ष में नहीं हैं और इसलिए इस कानून पर वो अकेले पड़ गए हैं. उन्होंने कहा कि व्हिप के कारण ये कानून लागू हो गया है. वरना कोई इस कानून को पास करने के पक्ष में नहीं था.
 
उन्होंने कहा कि शराबबंदी कानून में थानेदारों पर हो रही कार्रवाई भी गलत है. पुलिस एसोसिएशन को विश्वास में लेना चाहिए. ऐसा कानून ना बने जो न्याय संगत ना हो. विरोधी भी नीतीश कुमार की शराबबंदी की तुलना आतंक राज से कर रहे हैं. लेकिन नीतीश कुमार शराबबंदी से डिगने को तैयार नहीं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
रघुवंश ने नीतीश पर जुबानी प्रहार करते हुए कहा कि जब शराब की बिक्री बिहार में धड़ल्ले से हो रही थी, तब मुख्यमंत्री का दलील था कि शराब की ज्यादा बिक्री से राजस्व का इजाफा हो रहा है. अब शराबबंदी को लेकर नीतीश कुमार द्वारा दिए जा रहे तर्क में कोई दम नहीं है.