अहमदाबाद. गुजरात के अहमदाबाद की 13 साल की छात्रा तंजीम मेरानी ने 15 अगस्त को कश्मीर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने का एलान किया है. तंजीम का परिवार भी उसके फैसले के साथ है. तंजिम का कहना है कि हमारे कश्मीर में आए दिन आतंकी संगठन आईएसआईएस (ISIS) और पाकिस्तान के झंडे फहराए जा रहे हैं, मैं वहां तिरंगा फहराकर आउंगी. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
तंजीम से जब ये पूछा गया कि उसे ये ख्याल कैसे आया तो उसने बताया कि वो लोगों को कश्मीर में पाकिस्तान और ISIS के झंडे लहराते देखती है. जबकि कश्मीर तो भारत का अभिन्न हिस्सा है, यहां तो तिरंगा फहराया जाना चाहिए.
 
 
तंजीम ने कहा कि वहां जाने के लिए हमें कोई परमिशन नहीं चाहिए, ये हमारा हक है और हमारे साथ सभी लोगों को वहां जाकर झंड़ा फहराना चाहिए.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
तंजीम के पिता आमिर मेरानी का कहना है कि वो अपनी बेटी के इस फैसले के साथ हैं. वो सबसे पहले आर्मी के अधिकारियों से निवेदन करेंगे कि वो उनकी बेटी को तिरंगा फहराने दें. अगर आर्मी उनके इस अनुरोध को मानने से मना कर देगी तो वो भूख हड़ताल करेंगे.