नई दिल्ली. राज्यसभा के बाद जीएसटी संविधान संशोधन बिल आखिरकार सोमवार को लोकसभा में भी सर्वसम्मति से पास हो गया. इस बिल को सभी 443 सदस्यों ने अपना समर्थन दिया. सभी ने इसे पास करने के पक्ष में अपना वोट दिया. बिल पास होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा में इसे पास कराने के लिए सभी को धन्यवाद कहा.
 

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बता दें कि एआईडीएमके ने वोटिंग के पहले ही लोकसभा से वॉकआउट कर दिया था, उनके जाने के बाद मौजूद सभी 443 सदस्यों में से एक ने भी इस बिल के खिलाफ वोट नहीं किया. बिल पास होने के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि इस बिल का पास होना देश के हित में है.
 
 
प्रधानमंत्री ने इस मौके पर कहा कि इस बिल का पास होना किसी दल या सरकार की जीत नहीं है बल्कि भारतीय लोकतंत्र की परंपराओं की विजय है. उन्होंने कहा कि जीएसटी का मतलब है ग्रेट स्टेप बाय टीम इंडिया. उन्होंने कहा कि जीएसटी एक भारत, श्रेष्ठ भारत के भाव को ताकत देता है.
 
पीएम मोदी ने अपने बयान में जीएसटी के अर्थ को परिभाषित करते हुए कहा कि जीएसटी का मतलब है ग्रेट स्टेप टुवार्ड्स ट्रांसफॉर्मेशन. उन्होंने आगे कहा कि इसका मतलब है ग्रेट स्टेप टुवार्ड्स ट्रांसपेरेंसी इन इंडिया. उन्होंने कहा कि टैक्स टेररिज्म मुक्त भारत बनाने के लिए इस बिल का पास होना बहुत जरूरी था.
 
Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
 
यहां प्रधानमंत्री ने बताया कि जीएसटी की वजह से राज्यों की आर्थिक हालत में सुधार आएगा. उन्होंने पूर्वी राज्यों को आगे बढ़ाने पर खासा जोर दिया. पीएम के अनुसार जीएसटी का सबसे ज्यादा फायदा आम आदमी को होगा. उनके अनुसार इसका फायदा टैक्स का भुगतान करने वाले को होगा. पीएम ने यह भी बताया कि गरीबों के काम आने वाली फूड और दवाओं जैसी तमाम चीजें जीएसटी के दायरे से बाहर रखी गयी हैं.