गुवाहाटी. मानहानी मामले में असम के एक कोर्ट ने कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी को समन जारी किया है. राहुल को 29 सितंबर से पहले कोर्ट में पेश होना होगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
यह समन कामरूप जिले के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) की अदालत ने जारी किया है. दिसंबर 2015 को बारपेटा में मंदिर में प्रवेश को लेकर RSS कार्यकर्ताओं से प्रवेश न करने देने से संबंधी राहुल के बयान पर मानहानी का केस दर्ज करवाया गया था.
 
 
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के स्वयंसेवी अंजन बोरा ने राहुल के खिलाफ RSS की छवि धूमिल करने के लिए मानहानि का मामला दर्ज कराया है. बोरा ने राहुल पर आरोप लगाया है कि राहुल ने मीडिया के सामने कहा था कि उन्हें दिसंबर 2015 में RSS कार्यकर्ताओं ने बारपेटा सत्र में प्रवेश नहीं करने दिया था. ये सरासर झूठ बोल रहे थे.
 
 
बोरा ने कहा कि राहुल पिछले साल 12 दिसंबर को 15वीं सदी के बारपेटा सत्र का दौरा करने वाले थे, लेकिन उन्होंने सत्र में शामिल न होने का निर्णय लिया और इसके बदले उन्होंने बारपेटा शहर में एक रैली में हिस्सा लिया. बोरा ने ये भी कहा कि RSS सत्र का संचालन नहीं करता, इसलिए वह राहुल को रोक नहीं सकता था.