कोकराझार. असम के कोकराझार में बोडो उग्रवादियों ने शुक्रवार को काले कपड़े फहने हमला कर दिया था. इस हमले में अब तक 14 लोगों की मौत और 18 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. फायरिंग के बाद हरकत में आए सेना के जवानों ने जवाबी कार्रवाही करते हुए दो हमलावरों को मार गिराया और छह हमलावरों की तलाश जारी है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
असम सरकार ने हमले में मारे गए पीड़ितों के परिवारों को पांच लाख और घायलों को एक लाख का मुआवजे देने का एलान किया है. बताया जा रहा है बोडो उग्रवादियों के हमलावर कोकराझार के बाजार में एक ऑटो रिक्शा से पहुंचे थे. बाजार में पहुंचते ही हमलावरों ने अधांधुंध फायरिंग शुरू कर दी, जिससे बाजार में भगदड़ मच गई. हमलावरों ने ग्रेनेड भी फेंके, जिससे एक घर में आग लग गई. इस घटना में NDFB के उग्रवादियों का हाथ होने का शक जताया जा रहा है. 
 
 
असम के मुख्यमंत्री असम सर्वानंद सोनोवाल ने बताया है कि गुवाहटी से NIA की टीम कोकराझार पहुंची हुई है जबकि केंद्र सरकार ने अर्धसैनिक बलों की टुकड़ी को भी कोकराझार भेजा है. जिससे हालात संभालने में प्रशासन की मदद की जा सकेगी.
 
Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
 
मुख्यमंत्री ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की. सर्वानंद सोनोवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस घटना को लेकर फोन पर बात की और मामले की पूरी जानकारी दी. वहीं असम सरकार ने हमले में मारे गए पीड़ितों के परिवारों को पांच लाख और घायलों को एक लाख का मुआवजे देने का एलान किया है.