नई दिल्ली. राज्यसभा में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) संसोधन बिल पास हो गया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक बिल के पक्ष में 203 वोट पड़े हैं जबकि विरोध में एक भी वोट नहीं डाला गया. बिल की मंजूरी के पक्ष में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कई बातें रखी. जिसमें उन्होंने कहा कि जीएसटी के लागू होने का बाद कर बचाना मुश्किल हो जाएगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बिल के पास हो जाने पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली को बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट किया है कि गरीबों को फायदा पहुंचाने वाले जीएसटी के लिए आम सहमति बनाने पर पीएम मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली को बधाई.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
राज्यसभा में विपक्ष के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि जीएसटी को लागू करना एक सिरदर्दी है लेकिन पूर्व वित्तमंत्री बन जाना बड़ा आसान है. पूर्व वित्तमंत्री चिदंबरम के सवाल का जवाब देते हुए अरुण जेटली ने कहा कि राज्य 18 फीसदी कर की दर पर तैयार नहीं है, वे चाहते हैं कि दर बढ़ाई जाए.