नई दिल्ली. GST बिल बुधवार को राज्यसभा में पेश किया जाएगा और इस पर चर्चा होगी. माना जा रहा है कि इसको पास कराने के लिए लगभग सभी प्रमुख राजनीतिक दलों के बीच विधेयक पर सहमति बन गई है. बीजेपी और कांग्रेस ने अपने सांसदों को व्हिप जारी करते हुए अपने सभी सदस्यों को बुधवार को सदन में मौजूद रहने को कहा है. बुधवार को GST बिल पास होने की पूरी संभावना है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने बताया कि GST बिल राज्यसभा में बुधवार को पेश किया जाएगा. उन्होंने कहा कि सभी राजनीतिक पार्टियों से इसमें सहयोग की अपेक्षा की जा रही. सभी पार्टियां GST पास होने के पक्ष में नजर आ रही हैं.
 
 
बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी ने सन 2000 में जिस GST की नींव रखी थी वो 16 साल बाद संसद में पास होने की कगार पर है. लोकसभा और राज्यसभा से पास बिल को कानून की शक्ल देने के लिए राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा. GST बिल पर राष्ट्रपति की मुहर लगने के बाद इसे कानून का रुप देने में कोई दिक्कत नहीं होगी. हालांकि राष्ट्रपति को अधिकार है कि वो इस बिल को कुछ संशोधनों के लिए सरकार के पास वापिस भी कर सकते हैं, लेकिन इसकी संभावना कम ही दिखती है. 
 
 
क्या होता है GST 
गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) एक अप्रत्यक्ष कर है. GST के लागू होने से हर सामान पर सिर्फ एक टैक्स लगेगा यानी वैट, एक्साइज और सर्विस टैक्स की जगह एक ही टैक्स लगेगा. पूरे देश में सामान पर देश के लोगों को एक ही टैक्स चुकाना होगा. यानी पूरे देश में किसी भी सामान की कीमत एक ही रहेगी. वर्तमान में वस्तुओं पर भिन्न प्रकार के टैक्स लगते हैं.
 
क्या होगा सस्ता  
जीएसटी बिल के कानून का रुप ले लेने से वैट और सर्विस टैक्स खत्म होने के बाद आपके लिए घर खरीदना सस्ता हो जाएगा. रेस्टोरेंट में खाना खाना सस्ता होगा. अधिकतर इलेक्ट्रोनिक सामान जैसे एयरकंडीशनर, माइक्रोवेव ओवन, फ्रिज, वाशिंग मशीन सस्ती हो जाएंगी. माल ढुलाई भी 20 फीसदी तक सस्ती हो सकती है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
क्या होगा महंगा 
चाय-कॉफी, डिब्बाबंद फूड प्रोडक्ट, मोबाइल बिल, क्रेडिट कार्ड का बिल, जेम्स एंड ज्वैलरी, रेडिमेड गारमेंट आदि GST लालू होने से महंगे हो जाएंगे.