नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को 22वीं बार देशवासियों से मान की बात की. उन्होंने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में रियो में जाने वाले खिलाड़ियों की हौसलाफजाई की. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि खिलाड़ी रातों रात नहीं बनते, सालों की तपस्या के बाद बनते हैं, इसलिए देशवासी उनका हौसला बढ़ाएं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
आज प्रधनमंत्री ने बताया कि सरकार ने ‘प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व’ अभियान आरंभ किया है. इस अभियान में हर महीने की 9 तारीख को गर्भवती महिलाओं की सरकारी अस्पतालों में निशुल्क जांच की जाएगी. 
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
पीएम मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम का आज यह 22वां संस्करण है.  प्रधानमंत्री मोदी विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों पर अब तक 21 बार लोगों के साथ विचार साझा कर चुके हैं. इस कार्यक्रम की शुरुआत अक्तूबर 2014 में की गई थी. मोदी के इस कार्यक्रम में आम जनता को जोड़ने के लिए लोगों से सुझाव मांगे जाते हैं. लोग ये सुझाव टेलीफोन, www.mygov.in, मोबाइल एप्लिकेशन और पत्र लिखकर दे सकते हैं.