नई दिल्ली. इंडियन एयरफोर्स के विमान AN-32 को बंगाल की खाड़ी में लापता हुए एक हफ्ते से ज्यादा का समय हो गया है, लेकिन अब तक विमान का कोई सबूत नहीं मिला है. ऐसे में विमान की तलाश के लिए भारत ने अमेरिका से मदद मांगी है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

 
रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा है कि विमान कि तोड़फोड़ किए जाने की आशंका बहुत ही कम है. हालांकि कोई सुराग अभी तक नहीं मिला है, इसलिए भारत ने अमेरिका से मदद मांगी है.
 
परिजनों का दावा- फोन है चालू
 
वहीं विमान में सवार एयरमैन रघुवीर वर्मा के परिजनों ने दावा किया है कि शुक्रवार की सुबह रघुवीर का फोन चालू था. उसके फोन में कई बार रिंग हुई थी.  
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि 22 जुलाई को चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर जा रहा विमान AN-32 अचानक से लापता हो गया था, विमान में कुल 29 यात्री सवार थे. विमान से आखिरी बार संपर्क 22 जुलाई को ही सुबह 8:46 बजे किया गया था.