नई दिल्ली. शुक्रवार को वर्ल्ड टाइगर डे के मौके पर केंद्रीय पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है. दवे के मुताबिक भारत में बाघों के संरक्षण और उसकी देखभाल पर काफी ध्यान दिया जा रहा है और उम्मीद है कि साल 2022 तक भारत में बाघों की जनसंख्या दोगुनी हो जाएगी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दवे ने दुनियाभर के पर्यटकों से भी अपील कि कि वो टाइगर को देखने के लिए भारत आएं. उन्होंने बताया कि भारत के वन्य अभ्यारणों में इस वक्त 2226 बाघ मौजूद हैं. दुनियाभर में मौजूद बाघों की कुल जनसंख्या का एक बड़ा हिस्सा भारत में हैं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
रिपोर्ट्स के मुताबिक दुनियाभर में इस वक्त बाघ ज्यादातर जंगल में खुले घूमने की जगह किसी ना किसी बाड़े में हैं. या तो उन्हें वहां प्रजनन के लिए या फिर व्यवसायिक उद्देश्य के लिए रखा गया है. दुनियाभर के 45 एनजीओ ने इस डाटा को सामने रखा है.