नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट द्वारा यूपीए सरकार के जाट आरक्षण फैसले को रद्द करने पर जाट संगठनों ने आगरा से दिल्ली जाने वाले एक्सप्रेस-वे पर विरोध प्रदर्शन किया. सुबह 10.30 बजे जाटों ने एक्सप्रेस-वे पर जाम लगाकर एक घंटे तक नारेबाजी की. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने जाट समुदाय को अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) आरक्षण कोटे में शामिल करने के लिए पूर्व यूपीए सरकार की ओर से जारी की गई अधिसूचना को रद्द कर दिया. जस्टिस रंजन गोगोई और रोहिंटन फली नरीमन की पीठ ने कहा, ‘हम इससे सहमत नहीं हो सकते कि राजनीतिक दृष्टि से संगठित जाट पिछड़ा वर्ग में आते हैं और इसलिए इसके तहत आरक्षण के हकदार हैं.’