नई दिल्ली. जंगी जहाज आईएनएस विराट आज अपनी आखिरी यात्रा पर निकलने को तैयार है. विराट की आखिरी यात्रा चार दिनों की होगी. मुंबई से कोच्चि तक का समुद्री सफर को विराट का आखिरी सफर है, जिसके बाद इस जंगी जहाज को सेवा से हटा दिया जाएगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अभी INS विराट को सेवानिवृत्त नहीं किया जा रहा है. सेवानिवृत्ति इस साल के आखिरी में एक खास तारीख पर की जाएगी. लेकिन इस यात्रा के बाद विराट कभी भी जंगी जहाज के रूप में कोई सफर तय नहीं करेगा.
 
मीडिया को No Entry
 
विराट के आखिरी सफर पर मीडिया को अनुमति नहीं दी गई है. कोई भी मीडिया ऑर्गेनाइजेशन को इसके सफर पर रिपोर्टिंग करने के लिए प्रवेश नहीं दिया गया है. कुछ जरूरी फुटेज नेवी की ही तरफ से जारी किए जाएंगे. 
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
क्या है INS विराट
 
पिछले एक दशक से विराट भारत का एकमात्र विमान वाहक पोत रहा है. सेवा से हटा देने के बाद यह कहा जा रहा है कि इसे एक साहसिक पर्यटन केंद्र का रूप दे दिया जाएगा, लेकिन अभी तक कुछ भी साफ नहीं हुआ है. हालांकि रक्षा मंत्रालय ने यह साफ कर दिया है कि जो हालत विक्रांत की हुई थी, विराट के साथ ऐसा नहीं होगा. बता दें कि 1971 के युद्ध में हिस्सा लेने वाले विराट को कबाड़ में बेच दिया गया था.