मुंबई. अपने विवादित भाषणों से आतंक को बढ़ावा देने के आरोपी जाकिर नाईक के एक सहयोगी अरशद कुरैशी को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है. उस पर आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के लिए भर्ती कराने का आरोप है. महाराष्ट्र एटीएस और केरल पुलिस ने साझा ऑपरेशन में नाईक के पीआरओ अरशीद कुरैशी को नवी मुंबई से गिरफ्तार किया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
जाकिर नाईक के सहयोगी अरशीद कुरैशी को केरल की मरियम का धर्मांतरण कर उसे आईएस में भेजने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. जिस मामले में गिरफ्तारी हुई है उसकी एफआईआर केरल में दर्ज है. इसलिए नवी मुंबई के कोर्ट में पेशी के बाद कुरैशी को केरल पुलिस के हवाले 25 जुलाई तक किया गया है. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि जाकिर नाइक के आईआरएफ फाउन्डेशन से जुड़े अरशीद कुरैशी को नवी मुंबई से गिरफ्तार किया गया है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
कौन हैं जाकिर नाईक
जाकिर का जन्म 1965 में मुंबई में हुआ. मेडिकल की पढ़ाई पूरी करने के बाद जाकिर ने 1991 में इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन की स्थापना की. इस संस्था का मकसद था गैर मुस्लिमों को इस्लाम का सही मतलब समझाना. इसी मकसद से जाकिर ने खुद दुनिया भर में घूम घूम कर कुरान और इस्लाम पर लेक्चर देना शुरू कर दिया. जाकिर नाइक पिछले 20 सालों में 30 से ज्यादा देशों में 2000 से भी ज्यादा सभाएं कर चुका है. जाकिर की वेशभूषा और भाषा दूसरे इस्लामिक धर्मगुरुओं से बिलकुल अलग है.