श्रीनगर. आतंकी सगंठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का कमांडर बुरहान वानी जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एनकाउंटर में मारे जाने के बाद कश्मीर में 13 दिन बाद भी 10 जिलों में कर्फ्यू जारी है. बुराहान के मारे जाने के बाद श्रीनगर में अलगावादियों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया. इस विरोध प्रदर्शन में सुरक्षाबलों और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प में 48 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है और 400 के करीब लोग घायल हो गए हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
महबूबा ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने गुरुवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है. बैठक में नेशनल कॉन्फ्रेंस को छोड़कर बाकी पार्टियों के नेता पहुंचे हैं. नेशनल कॉन्फ्रेंस ने बैठक का बहिष्कार किया है. सीएम मुफ्ती ने राज्य में शांति बहाली पर चर्चा के लिए सभी पार्टियों के नेताओं को बुलाया है. 
 
 
घाटी में बिगड़े हुए हालात सामान्य होने के बाद अमरनाथ यात्रा एक बार फिर से शुरु हो गई है. सोमवार को कड़ी सुरक्षा के बीच 1786 तीर्थयात्रियों का नया जत्था अमरनाथ गुफा के दर्शन के लिए रवाना किया गया. अमरनाथ यात्रा शुरू होने के बाद से अब तक 1,72,851 तीर्थयात्री पवित्र गुफा के दर्शन कर चुके हैं. 
 
 
10 जिलों में लगातार जारी है कर्फ्यू
एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि एहतियात के तौर पर काननू-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कश्मीर घाटी के सभी 10 जिलों में लगातार कर्फ्यू जारी है. उन्होंने बताया कि घाटी में शुक्रवार की पथराव की घटनाओं की बड़ी संख्या को देखते हुये कर्फ्यू जारी रखने का निर्णय लिया गया.
 
 
अधिकारी ने बताया कि प्रतिबंधात्मक आदेशों को कड़ाई से लागू करने के लिए पूरी घाटी में पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवानों को तैनात किया गया है. घाटी में अफवाह फैलाने वाली किसी भी घटना को रोकने के लिए मोबाइल टेलीफोन सेवाएं भी बंद रखी गयी है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
5 दिन बाद छपे अखबार
कश्मीर घाटी में मीडिया पर लगी सेंसरशिप के पांच दिन बाद अखबार छपने लगे. सरकार की ओर से मिले आश्वसन के बाद सभी दैनिकों के संपादकों ने प्रकाशन शुरू करने का फैसला लिया. एक संपादक ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने मीडिया पर लगे बैन को लेकर खेद जताया है. उन्होंने कहा कि यह निचले स्तर पर की गई कार्रवाई थी, आगे से ऐसा नहीं हो इसके लिए सरकार पूरा प्रयास करेगी.’