नई दिल्ली. सर्च इंजन गूगल में टॉप टेन क्रिमिनल लिस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम दिखाने पर इलाहाबाद के जिला जज ने गूगल के सीईओ और इंडिया हेड को नोटिस जारी किया है. साथ ही गूगल के सीईओ लैरी पेग को तलब भी किया है. कोर्ट ने गूगल और उसके अफसरों के खिलाफ क्रिमिनल कम्प्लेंट दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं और 31 अगस्त को होने वाली अगली सुनवाई से पहले जवाब देने के लिए कहा है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
गूगल से नहीं आया कोई जवाब
कोर्ट में यह शिकायत सुशील कुमार मिश्रा नाम के वकील ने की थी. केस की अगली सुनवाई 31 अगस्त को होगी. शिकायत में कहा गया था कि top ten criminals of the world सर्च करने पर पीएम मोदी की फोटो दिखाई जा रही है. सुशील ने फोटो को हटाने के लिए भी कहा था लेकिन उन्हें गूगल की तरफ से कोई जवाब नहीं मिला. सुशील पुलिस में भी गए थे.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
गूगल ने पहले मांगी थी माफी
बता दें कि सर्च इंजन गूगल ने पिछले साल दुनिया के टॉप टेन क्रिमिनल्स की जो लिस्ट जारी की थी, उसमे मोदी को भी दिखाया गया था. मामले के तूल पकड़ने पर गूगल ने माफी तो मांग ली थी, लेकिन इस लिस्ट को अभी तक नहीं हटाया है. इलाहाबाद के जिला जज के वकील और सुशील मिश्र ने गूगल के इस कदम को देशद्रोह करार देते हुए पिछले साल ही स्थानीय कोर्ट में अर्जी दाखिल कर 156 (3) के तहत पुलिस को केस दर्ज कर कार्रवाई किये जाने का आदेश दिए जाने की मांग की थी.