नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ ने मंगलवार को ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए कहा कि अगर किसी दोषी को एक से अधिक अलग-अलग मामलों में आजीवन कारावास की सजाएं होती हैं तो ऐसी स्थिति में दोनों सजाएं एक साथ चलेंगी, न की अलग-अलग.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
हालांकि पीठ ने यह भी कहा कि अगर दोषी को एक मामले में निश्चित सजा और एक में उम्रकैद की सजा दी जाती है तो पहले दोषी को निश्चित सजा भुगतना पड़ेगा और उसके बाद ही वह उम्रकैद की सजा भुगतेगा.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter