नई दिल्ली. लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और समाजवादी पार्टी (सपा) मुखिया मुलायम सिंह यादव की सीट पर जाकर मुलाकात की और उनसे हालचाल जाना. करीब 30 सेकेंड तक मोदी दोनों नेताओं से मिले. इसके बाद तृणमूल नेताओं से भी मोदी ने बातचीत की.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
विपक्ष ने कसी कमर
सोमवार से संसद का मॉनसून सत्र शुरू हो गया है और यह सत्र 12 अगस्त तक चलेगा. केंद्र सरकार के सामने जीएसटी समेत कई अहम बिल इस सत्र में पास कराने की चुनौती है. वहीं विपक्ष अरुणाचल और कश्मीर से लेकर पीएम के विदेश दौरे तक सरकार को घेरने के लिए कमर कस चुका है. वहीं कांग्रेस ने कश्मीर का मुद्दा उठाते हुए चर्चा के लिए नोटिस दिया है. कश्मीर में भड़की हिंसा और पाकिस्तान की बयानबाजी को लेकर विपक्ष ने सरकार को घेरने का प्लान बनाया है.
 
मायावती ने दलितों का उठाया मुद्दा
बहुजन समाजवादी पार्टी (बीएसपी) की मुखिया मायावती ने राज्यसभा में कहा कि केंद्र में बीजेपी की अगुवाई वाली सरकार आने से दलितों पर अत्याचार बढ़े हैं. उन्होंने कहा कि गुजरात के उना में दलितों के साथ अत्याचार हो रहा है. इस मामले में जो भी दोषी हैं उन पर कार्रवाई हो. बीएसपी ने इस मुद्दे को लेकर सदन में हंगामा भी किया.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
सत्र शूरू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि सरकार हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है. सभी दल देश हित के लिए सहयोग दें और संसद में देश को दिशा देने का काम हो. उन्होंने आगे कहा कि देश को गति देने के लिए संसद में चर्चा जरूरी है.