राजकोट. गुजरात के राजकोट के पास चिप वाला कबूतर पुलिस के हाथ लगा है. भारत-पाकिस्तान सीमा के पास मिले इस कबूतर के पैर में चिप लगी थी और उर्दू में एक संदेश लिखा है. कबूतर को लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. बता दें कि इससे पहले भी कई जासूसी परिंदे सीमा पास सटे इलाकों में देखने को मिल चुके हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पुलिस उप निरीक्षक जे. एम. सोलंकी सहित टीम स्थल पर पहुंची और कबूतर को कब्जे में लिया. कबूतर के पंखों की लिखाई को पढऩे और रिंग का रहस्य जानने के लिए पुलिस ने एफएसएल के विशेषज्ञों की मदद ली है. पुलिस ने पंडोली गांव से मिले कबूतर को जांच के बाद वन विभाग को सौंप दिया है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
पंडोली गांव निवासी राजूभाई सोलंकी के घर के निकट रविवार सुबह एक कबूतर आकर बैठा, जिसके पैरों पर नम्बर लिखे टैग दिखाई देने से उन्होंने पड़ोसी रसिक पटेल को जानकारी दी. कबूतर को देखकर जासूसी की आशंका होने के कारण दोनों ने मिलकर कबूतर को पकड़ा और उसे पेटलाद के पशु चिकित्सक के पास ले गए. पंख पर उर्दू भाषा में की गई लिखाई को देखकर पशुचिकित्सक दशरथ ने पेटलाद ग्राम्य पुलिस को जानकारी दी.