नई दिल्ली. समय पर पजेशन नहीं देने की वजह से जेपी ग्रुप को कोर्ट से जबरदस्त झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने बिल्डर पर 4 करोड़ की पेनाल्टी लगा दी है. नोएडा एक्सप्रेस वे पर बन रहे कैलिप्सो कोर्ट प्रोजेक्ट के ग्राहकों ने मामला दर्ज कराया था. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मामले में सुनवाई करते हुए कोर्ट ने समय पर फ्लैट नहीं देने की वजह से जेपी ग्रुप पर पेनाल्टी लगा दी है और राष्ट्रीय उपभोक्ता आयोग के आदेश पर रोक लगाने से इंकार कर दिया है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बता दें कि कैलिप्सो कोर्ट प्रोजेक्ट 2007 में लॉन्च हुआ था. इस प्रोजेक्ट में 16 टॉवर थे और इसको 2011 तक पूरा होना था, लेकिन अभी तक ज्यादातर टावर का काम अधूरा है.