नई दिल्ली. इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाईक की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. जाकिर नाईक के इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन NGO के फंड को लेकर सरकार सख्त हो गई है. रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार ने NGO में विदेशी फंड को लेकर जांच का दायरा बढ़ा दिया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सूत्रों के अनुसार गृह मंत्रालय ने जाकिर नाईक से जुडी कम्पनियाँ और उसके इनकम टैक्स रिटर्न की पूरी जानकारी इकठ्ठी करने के लिए कहा है. साथ ही पिछले 10 सालों के इनकम टैक्स रिटर्न की जानकारी इकठ्ठी की जा रही है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
सूत्रों के अनुसार जाकिर नाईक के IRF को मिले लगभग 8 मिलियन पाउंड में से एक बड़ा हिस्सा पीस टीवी के खाते में ट्रान्सफर होने की जानकारी सामने आई है.