नई दिल्ली. दिल्ली के साकेत कोर्ट ने आईटी कर्मचारी जिगिशा घोष की हत्या के मामले में अंतिम जिरह सुनने के बाद फैसला सुनाया है. कोर्ट ने मामले में तीन लोगों को दोषी करार दिया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
साकेत कोर्ट ने जिगिशा हत्याकांड में रवि कपूर, अमित शुक्ला और बलजीत सिंह को हत्या और लूटपाट के तहत दोषी ठहराया है. तीनों को 20 अगस्त को सजा सुनाई जाएगी.
 
पुलिस के बताया कि जिगिशा एक प्रबंधन कंसल्टंसी फर्म में ऑपरेशंस मैनेजर के पद पर काम करती थी. 2009 में जिगिशा का अपहरण कर हत्या कर दी गई थी. जिगिशा का शव हरियाणा के सूरजकुंड के पास एक जगह से मिला था.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
रिपोर्ट्स के मताबिक दोषियों ने जिगिशा का अपहरण कर उसकी सोने की चेन, अंगुठी, मोबाइल,  डेबिट और क्रेडिट कार्ड लूट कर हत्या कर दी गई थी. फिलहाल तीनों दोषी जेल में हैं.