नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में वाटर टैंकर घोटाला में पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित से पूछताछ होगी. एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने नोटिस भेज दिया है और  उन्हें 26 अगस्त को पूछताछ के लिए तलब कर लिया है. बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की 49 दिन की सरकार में शीला दीक्षित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था और शीला दीक्षित की सरकार पर 400 करोड़ के घोटाले का आरोप लगाया था.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
एएसबी चीफ मुकेश मीणा ने बताया कि हमने शीला दीक्षित को नोटिस जारी कर दिया है. उनसे 26 अगस्त को पूछताछ की जाएगी. उधर, शीला दीक्षित ने कहा कि मुझे एसीबी से लेटर मिला है. लेकिन उसमें डेट का जिक्र नहीं है.
 
इसके बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) भी इस मामले में कूद पड़ी. दरअसल, केजरीवाल सरकार ने शीला के खिलाफ जांच कराने के बाद काफी वक्त तक उस रिपोर्ट पर कार्रवाई नहीं की, जिसके बाद बीजेपी ने केजरीवाल सरकार पर घोटाले को दबाने और शीला दीक्षित को बचाने का आरोप लगाया. बीजेपी की शिकायत के बाद एएसबी ने आम आदमी पार्टी के नेताओं से भी पूछताछ की.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
शीला पर आरोप लगा था कि उन्होंने ढाई लाख पानी के मीटर लगाने के लिए सरकारी धन को पानी की तरह बहाया था. एसीबी ने हाल ही में 400 करोड़ रुपए के इस कथित घोटाले में पूर्ववर्ती शीला दीक्षित सरकार और वर्तमान अरविंद केजरीवाल सरकार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी.